भारत के लिए मैदान पर संवाद बहुत जरूरी : Defender Nisha

s

महिला हॉकी टीम की युवा डिफेंडर निशा का मानना है कि भारत मैदान पर अपने प्रतिद्वंद्वियों से बढ़त हासिल करने के लिए अर्जेंटीना और जर्मनों के संचार कौशल से बहुत कुछ सीख सकता है। 25 साल की निशा ने कहा, “अर्जेंटीना और जर्मनी दोनों ही बहुत आक्रामक हॉकी खेलते हैं और जिस तरह से वे बातचीत करते हैं और सर्कल में घुसने के लिए अंतराल की तलाश करते हैं वह बहुत अनूठा है। उनके खिलाफ डिफेंड करना आसान नहीं था लेकिन साथ ही, उनसे बहुत कुछ सीखा जा सकता है।”

 इस साल जनवरी में अर्जेंटीना का दौरा करने वाली भारत टीम का हिस्सा रहीं निशा का कहना है कि उनके घर में दुनिया के नंबर 2 अर्जेंटीना और दुनिया के नंबर 3 जर्मनी के खिलाफ खेलना उनके लिए बड़ा आत्मविश्वास बढ़ाने वाला रहा है।

उन्होंने कहा, “मेरा तत्काल ध्यान उन क्षेत्रों पर काम करना है, जहां कोचिंग स्टाफ सलाह देते हैं। जर्मनी दौरे के बाद, हमारे प्रदर्शन का विश्लेषण किया गया और हमें बताया गया कि हमें किन क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।”

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

Post a Comment

From around the web