जानिए वो 3 कारण जिससे RCB को KKR के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा 

जानिए वो 3 कारण जिससे RCB को KKR के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा 

क्रिकेट न्यूज डेस्क।। आईपीएल के एलिमिनेटर मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स, केकेआर ने रोमांचक मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, आरसीबी को 4 विकेट से हराते हुए दूसरे क्वालीफायर में जगह बना ली है। इस अहम मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। निर्धारित 20 ओवरों में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम सिर्फ 138-7 का स्कोर ही बना पाई। इस स्कोर को कोलकाता नाइट राइडर्स ने दो गेंद श्रेष रहते 6 विकेट खोकर हासिल कर लिया। सुनील नारेन को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

RCB की इस हार के साथ उनका IPL 2021 का सफर भी समाप्त हो गया और एक बार फिर वो IPL का खिताब जीतने में नाकाम हुए। बतौर कप्तान विराट कोहली का यह आखिरी IPL मैच भी रहा। अब वो सिर्फ बतौर खिलाड़ी ही IPL में खेलते हुए नजर आएंगे। हालांकि इस मैच में RCB से काफी गलतियां हुई, जिसके कारण उन्हें हार का सामना करना पड़ा। इस आर्टिकल में हम उन्हीं कारणों पर नज़र डालेंगे:

जानिए वो 3 कारण जिससे RCB को KKR के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा 

RCB के मध्यक्रम का लचर प्रदर्शन
विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया था और टीम के सलामी बल्लेबाजों ने इस फैसले को सही भी साबित किया। कप्तान विराट कोहली (33 गेंदों में 39 रन) और देवदत्त पडीक्कल (18 गेंदों में 21 रन) ने पहले विकेट के लिए 5.1 ओवरों में 49 रनों की साझेदारी की थी। इस शुरुआत के बाद ऐसा लग रहा था कि RCB की टीम विशाल स्कोर खड़ा करेगी। हालांकि RCB के मध्यक्रम ने पूरी तरह निराश किया। श्रीकर भरत (16 गेंदों में 9 रन), ग्लेन मैक्सवेल (18 गेंदों में 15 रन) और एबी डीविलियर्स (9 गेंदों में 11 रन) जैसे बल्लेबाजों को संघर्ष करते हुए देखा गया। इसी वजह से RCB की टीम 20 ओवरों में 138-7 का स्कोर ही बना पाई। RCB की टीम अगर 160 का स्कोर बनाती, तो उनके पास जीतने का बेहतर मौका होता।

सुनील नरेन का ऑलराउंड प्रदर्शन
कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए इस मैच में सबसे अच्छा प्रदर्शन टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी सुनील नारेन ने ही किया। नारेन ने पहले गेंद और फिर बल्ले के साथ अहम योगदान देते हुए मैच में KKR का पलड़ा भारी किया। गेंद के साथ सुनील नारेन ने 4 ओवरों में 21 रन देकर 4 विकेट लिए। नारेन ने श्रीकर भरत, विराट कोहली, ग्लेन मैक्सवेल और एबी डीविलियर्स के अहम विकेट लिए। बतौर बल्लेबाज नारेन ने 15 गेंदों में 3 छक्कों की मदद से 26 रन बनाए।

जानिए वो 3 कारण जिससे RCB को KKR के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा 

विराट कोहली की खराब कप्तानी
139 रनों का बचाव करते हुए RCB को शुरुआती विकेट की जरूरत थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। पहली पारी में स्पिनर्स ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया था, तो उम्मीद थी विराट कोहली भी अपने स्पिनर्स का अच्छे से उपयोग करेंगे। हालांकि ऐसा नहीं हुआ और युजवेंद्र चहल को काफी देरी से गेंदबाजी दी गई। युजवेंद्र चहल, हर्षल पटेल ने काफी अच्छा किया, लेकिन उन्हें ज्यादा समर्थन नहीं मिला। इसके अलावा शाहबाज अहमद से गेंदबाजी ही नहीं कराई गई, जोकि काफी चौंकाने वाला फैसला रहा। साथ ही में जब सुनील नारेन बल्लेबाजी करने आए थे, तब कोहली ने डेनियल क्रिश्चियन से गेंदबाजी कराई और वो फैसला पूरी तरह से टीम के खिलाफ गया। क्रिश्चियन के ओवर में नारेन ने 3 छक्के लगाए और इसमें उन्होंने 22 रन दिए। मैच में पलड़ा पूरी तरह से KKR का इसी ओवर के बाद भारी हुआ था।

Post a Comment

From around the web