क्या Rahul Dravid रखने वाले हैं राजनीति में कदम? बनने वाले हैं BJP कार्यक्रम का हिस्सा

क्या Rahul Dravid रखने वाले हैं राजनीति में कदम? बनने वाले हैं BJP कार्यक्रम का हिस्सा

क्रिकेट न्यूज डेस्क।। भारतीय मुख्य कोच राहुल द्रविड़ भाजपा युवा मोर्चा की राष्ट्रीय कार्य समिति की बैठक में शामिल होंगे। वैसे क्रिकेटर्स का राजनीति से पुराना नाता है। भारत में देखा गया है कि ज्यादातर क्रिकेटर संन्यास के बाद राजनीति में अपना करियर बनाते हैं। गौतम गंभीर, नवजोत सिंह सिद्धू और कीर्ति आजाद जैसे कई उदाहरण हैं। वहीं, हिमाचल प्रदेश में इस साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। जिसके लिए सत्ता पक्ष ने पूरी तैयारी कर ली है।

बीजेपी के कार्यक्रम में शामिल होंगे राहुल द्रविड़
धर्मशाला में 12 से 15 मई तक भाजपा युवा मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यसमिति का आयोजन होने जा रहा है। जिसमें भारतीय टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को भी हिस्सा लेना है। कार्यक्रम में भाजपा के कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे। इनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और राहुल द्रविड़ शामिल हैं। वहीं धर्मशाला विधायक विशाल नेहरिया ने कार्यक्रम को लेकर कहा, भाजपा युवा मोर्चा राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक 12 से 15 मई तक धर्मशाला में होगी। इसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और हिमाचल प्रदेश नेतृत्व शामिल होंगे। इसमें भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ भी हिस्सा लेंगे। उनकी सफलता युवाओं को संदेश देगी कि हम न केवल राजनीति में बल्कि अन्य क्षेत्रों में भी आगे बढ़ सकते हैं।

क्या Rahul Dravid रखने वाले हैं राजनीति में कदम? बनने वाले हैं BJP कार्यक्रम का हिस्सा

क्या राजनीति में आएंगे राहुल द्रविड़?

भारतीय टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट की दुनिया में भारत का नाम कमाया है. क्रिकेट की दुनिया में उन्हें मिस्टर ट्रस्टवर्थी के नाम से जाना जाता है। लेकिन यह लोगों को सामाजिक रूप से भी जगाए रखता है। वहीं राहुल द्रविड़ 12 से 15 मई तक धर्मशाला में भाजपा युवा मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यसमिति में शामिल होंगे। जिसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि वह राजनीति में उतरेंगे।

लेकिन यह नहीं है। बीजेपी इसका इस्तेमाल युवाओं को जगाने में करेगी. वर्तमान में हिमाचल प्रदेश में भाजपा की सरकार है। 2017 के विधानसभा चुनाव में 44 सीटों पर जीत हासिल की थी. वहीं, हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में 68 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होने हैं।

Post a Comment

From around the web