‘मैं MS DHONI के रास्ते पर चलना चाहता हूं’, रियान पराग ने अपनी बैटिंग को लेकर दिया बड़ा बयान

‘मैं MS DHONI के रास्ते पर चलना चाहता हूं’, रियान पराग ने अपनी बैटिंग को लेकर दिया बड़ा बयान

राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी रयान पराग पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी की तरह बल्लेबाजी करके धूम मचाना चाहते हैं। वह इस आईपीएल सीजन में अपनी बल्लेबाजी से कोई कमाल नहीं दिखा पाए हैं। लेकिन, वह इस सीजन में सबसे ज्यादा चर्चा में हैं क्योंकि, रेयान पराग के मैदान पर काफी सक्रिय दिखे। टूर्नामेंट के दौरान रयान पराग और हर्षल पटेल के बीच मैदान पर लड़ाई भी हुई थी। जिसके बाद मामला चर्चा में आ गया। यह सब समझाते हुए उन्होंने अपनी बल्लेबाजी की स्थिति पर बड़ा रिएक्शन दिया है।

रेयान पराग ने बैटिंग पोजीशन पर कही ये बड़ी बात

riyan
रेयान पराग एमएस धोनी की तरह बल्लेबाजी कर अपना जलवा दिखाना चाहते हैं। धोनी की बल्लेबाजी का हर कोई दीवाना है. धोनी को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशरों में से एक के रूप में जाना जाता है। वह आखिरी ओवर में बड़े शॉट खेलकर मैच जीतने की ताकत रखते हैं। वहीं, राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी रयान पराग भी उन्हीं की राह पर चलना चाहते हैं। अपनी बल्लेबाजी की स्थिति के बारे में उन्होंने कहा, "मैं अपनी बल्लेबाजी की स्थिति से खुश हूं। हालांकि मैं अपने प्रदर्शन से बहुत खुश नहीं हूं। मैं नंबर 6 और नंबर 7 बैटिंग पोजीशन पर एकाधिकार बनाना चाहता हूं, जो क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी के अलावा कोई नहीं कर पाया। इसके अलावा मेरे दिमाग में और कोई नाम नहीं आता। मैं उनके बताए रास्ते पर चलना चाहता हूं। मुझे उम्मीद है कि मैंने अब तक जो अनुभव प्राप्त किया है, उसका अधिकतम लाभ उठा सकता हूं।

'सीखने के लिए बहुत कुछ है'

Riyan Parag
रयान पराग सिर्फ 20 साल के हैं और उन्होंने आईपीएल में 47 मैचों में 522 रन बनाए हैं। वह आईपीएल के दौरान सीनियर खिलाड़ियों से जुड़कर काफी कुछ सीख रहे हैं। आईपीएल ने टीम इंडिया को कई ऐसे खिलाड़ी दिए हैं जिन्होंने विश्व क्रिकेट में अपनी काबिलियत साबित की है। ऐसे में पराग के पास खुद को धोनी जैसा दिखने के लिए काफी समय है। उन्होंने खेलों पर बातचीत के दौरान कहा, 'मैं काफी कुछ सीख रहा हूं, छठे और सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं है।' लोग सोचते हैं कि अगर आप आकर छक्के मारने लगें तो इस पोजीशन में कोई टेंशन नहीं है, लेकिन यह काम नहीं करता। मैंने कुछ अच्छी पारियां खेली हैं, लेकिन जैसा मैंने कहा सीखने के लिए बहुत कुछ है।

Post a Comment

From around the web