उस्‍मान ख्‍वाजा की जोरदार वापसी पर डेविड वॉर्नर ने लिखा बेहद भावुक ट्वीट

उस्‍मान ख्‍वाजा की जोरदार वापसी पर डेविड वॉर्नर ने लिखा बेहद भावुक ट्वीट

क्रिकेट न्यूज डेस्क।।  ऑस्‍ट्रेलिया  के ओपनर डेविड वॉर्नर ने रविवार को उस्‍मान ख्‍वाजा के लिए बेहद भावुक पोस्‍ट लिखा। उस्‍मान ख्‍वाजा ने टेस्‍ट क्रिकेट में करीब तीन साल के बाद जोरदार वापसी की और सिडनी में खेले गए एशेज सीरीज के चौथे टेस्‍ट की दोनों पारियों में शतक जमाए। ख्‍वाजा सिडनी में खेले गए टेस्‍ट मैच की दोनों पारियों में शतक जमाने वाले तीसरे खिलाड़ी बने थे। वहीं बाएं हाथ के बल्‍लेबाज एशेज टेस्‍ट की दोनों पारियों में शतक जमाने वाले छठे ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाज बने।

ख्‍वाजा ने शतक की मदद से ऑस्‍ट्रेलिया ने इंग्‍लैंड के सामने 388 रन का लक्ष्‍य रखा था। इंग्‍लैंड ने नाटकीय अंदाज में मुकाबला ड्रॉ कराया और क्‍लीन स्‍वीप झेलने से बची। चौथा टेस्‍ट खत्‍म होने के बाद वॉर्नर ने ख्‍वाजा के साथ की एक फोटो शेयर की व अपने खेलने के शुरूआती दिनों को याद किया। वॉर्नर ने कैप्‍शन लिखा, 'बचपन के भाई, अब पिता और मुझे उस्‍मान ख्‍वाजा की वापसी से ज्‍यादा गर्व किसी बात का नहीं। हमने वेवरले ओवल में दीवार के सामने गेंद फेंककर अपने क्रिकेट की शुरूआत की। हमाने अपने भाईयों को क्रिकेट खेलते हुए देखा। बढ़ते हुए वो खेल खेला, जिससे हम दोनों को प्‍यार है। हमने एक-दूसरे के खिलाफ भी खेला। मगर दोबारा एक ही टीम में लौटना और पिता बनकर अपने को जी रहे हैं। सपने ऐसे ही बनते हैं, जिसे आप परिवार और करीबी दोस्‍तों के साथ साझा करो।'

वॉर्नर ने पत्‍नी की जमकर की थी तारीफ
डेविड वॉर्नर ने अपनी पत्‍नी की जमकर तारीफ की, जो बायो-बबल पाबंदियों के चलते अकेले ही लंबे समय से अपनी तीन बेटियों का ध्‍यान रख रही हैं। वॉर्नर ने अपनी पत्‍नी कैंडिस के लिए कहा कि आप जो सबसे बड़ा मेडल दे सकते हैं, वो उसकी हकदार है। दुनियाभर के क्रिकेटरों को 2020 की शुरूआत से कोविड-19 प्रभाव के कारण बायो-बबल में रहने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। विभिन्‍न पाबंदियों के कारण परिवार को सभी दौरों पर साथ आने की अनुमति नहीं मिलती।

बायो-बबल लाइफ के साथ कैसे संभाल रहे हैं, इस पर बातचीत करते हुए वॉर्नर ने बैकस्‍टेज विथ बोरिया चैट शो पर स्‍वीकार किया कि उन्‍होंने और कैंडिस ने बायो-बबल पाबंदियों के कारण कई उतार-चढ़ाव देखे। अपनी पत्‍नी को सैल्‍यूट करते हुए वॉर्नर ने कहा, 'घर में तीन बच्‍चों का ध्‍यान रखना। मैं अपनी पत्‍नी की बराबरी नहीं कर सकता हूं। 29 सप्‍ताह पूरे होने को हैं। मैं पिछले 12 महीने में 29 सप्‍ताह से घर से दूर हूं। इतने समय तक तीन बेटियों का ध्‍यान रखने के लिए मेरी पत्‍नी सबसे बड़े मेडल की हकदार हैं क्‍योंकि यह मुश्किल है।'

35 साल के वॉर्नर ने कहा कि परिवार से इतने समय तक दूर रहना कठिन है। उन्‍होंने अपनी पत्‍नी को बहादुर करार दिया। वॉर्नर ने कहा, 'मैं सिर्फ चेहरा दिखा पा रहा हूं। बच्‍चे बहुत उत्‍साहित रहते हैं। बच्‍चे तो बच्‍चे हैं, वो नहीं समझेंगे। मेरे लिए, बच्‍चों को ऐसे देखना दुखद है क्‍योंकि मेरी पत्‍नी बहादुर महिला है। मैं कभी शिकायत नहीं करता। मुझे पता है कि यह मुश्किल होता है।'

Post a Comment

From around the web