Archer, Stokes ने प्रशंसकों से इंग्लैंड के खिलाड़ियों पर नस्लीय टिप्पणी नहीं करने की अपील की

f

स्पोंर्टस जयपुर डेस्क !!! इंग्लैंड के क्रिकेटर जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स ने प्रशंसकों से यूरो कप 2020 के फाइनल में पेनल्टी शूटआउट में गोल मिस करने वाले मार्कस राशफोर्ड, जाडोन सांचो और बुकायो साका पर नस्लीय टिप्पणी नहीं करने की अपील की है। इंग्लैंड को यूरो कप के फाइनल में इटली के हाथों पेनल्टी शूटआउट में 2-3 से हार का सामना करना पड़ा। इंग्लैंड की ओर से हैरी केन और हैरी मागुइरे ने पेनल्टी में गोल किया जबकि राशफोर्ड, सांचो और साका ने पेनल्टी मिस की थी।

तेज गेंदबाज आर्चर ने ट्वीट कर कहा, “इन खिलाड़ियों पर नस्लीय टिप्पणी नहीं करें।”

पाकिस्तान के खिलाफ चल रही वनडे सीरीज में इंग्लैंड की कप्तानी कर रहे बेन स्टोक्स ने आर्चर का ट्वीट रि-ट्वीट करते हुए प्रशंसकों से इसे रि-ट्वीट करने का आग्रह किया।

इंग्लैंड फुटबॉल संघ ने ट्वीट कर लिखा, “हमें काफी दुखा हुआ कि हमारी टीम के कुछ खिलाड़ी जिन्होंने अपना सबकुछ दिया उन लोगों पर आज के मैच के बाद नस्लीय टिप्पणी की गई। हम अपने खिलाड़ियों के साथ हैं।”

इंग्लैंड फुटबॉल संघ ने बयान जारी कर कहा, “संघ किसी भी तरह के भेदभाव की और हमारे कुछ खिलाड़ियों पर सोशल मीडिया में ऑनलाइन नस्लीय भेद की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं।”

लंदन पुलिस सर्विस, द मेट्रोपोलिटियन पुलिस ने कहा है कि सोशल मीडिया पर नस्लीय और अपमानजनक टिप्पणी की जांच कर रहा है।

इंग्लैंड टीम के कोच गारेथ साउथगेट ने भी अपने खिलाड़ियों विशेषकर साका का समर्थन किया।

साउथगेट ने ट्वीट कर कहा, “यह जरूरी है कि उन्हें पता चलना चाहिए कि वह अकेले नहीं है।”

साउथगेट ने इसके साथ ही इन तीन खिलाड़ियों को पेनल्टी के लिए भेजने पर अपनी जिम्मेदारी ली।

— आईएएनएस

Post a Comment

From around the web