इंग्लैंड के खिलाफ 5वां टेस्ट रद होने के बाद बढ़ी खिलाड़ियों की मुश्किलें, मिली ये बुरी खबर

s

स्पोर्ट्स डेस्क, जयपुर।। 10 सितंबर से 14 सितंबर तक खेले जाने वाले मैनचेस्टर टेस्ट मैच को बीसीसीआई और इंग्लैंड क्रिकेट ने आपसी सहमति के बाद रद करने का फैसला लिया। इस मैच के रद होने के बाद अब आईपीएल की फ्रेंचाइजी टीमें अपने खिलाड़ियों को यूएई लाने की कोशिश में लग गई हैं। आइपीएल के 14वें सीजन के बचे हुए मुकाबलों को खेलने के लिए मुंबई इंडियंस, पंजाब किंग्स, चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाड़ियों को दुबई पहुंचना है। सभी टीमों अपने खिलाड़ियों को चार्टर्ड प्लेन से इंग्लैंड से अपने पास लाना चाहती हैं।

6 दिन रहना होगा क्वारंटीन

आइपीएल में खेलने वाले सभी खिलाड़ियों के पहले बायो टू बायो बबल ट्रांसफर किया जाना था। इससे खिलाड़ियों को क्वारंटाइन होने की अवधि में जो मानसिक तौर पर तकलीफ झेलनी पड़ती है उससे बचाया जा सकता था। अब इंग्लैंड में जैसा हालात पैदा हुए उसके बाद टूर्नामेंट में उतरने से पहले 6 के लिए सभी खिलाड़ियों को क्वारंटीन होना पड़ेगा। जानकार मानते हैं यह अवधि किसी भी खिलाड़ी के लिए सबसे ज्यादा तकलीफ देने वाला होता है। इंटरनेशनल क्रिकेट में कई खिलाड़ी क्वारंटाइन की अवधि से परेशान होकर ही छुट्टी या ब्रेक ले रहे हैं। टूर्नामेंट में खेलने वाले सभी खिलाड़ियों को 6 दिन के लिए क्वारंटीन से गुजरना पड़ेगा।

s

बीसीसीआइ नहीं कर रहा प्लेन का इंतजाम

तय कार्यक्रम के मुताबिक 14 सितंबर को इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर टेस्ट खत्म होने था। बीसीसीआइ ने इसके बाद एक चार्टर्ड प्लेन से खिलाड़ियों को 15 सितंबर को आइपीएल के लिए यूएई लाने की योजना बनाई थी। सीरीज का पांचवां टेस्ट मैच रद किए जाने के बाद अब हालात बदल गए हैं और बीसीसीआई की तरफ से किसी चार्टर्ड प्लेन का इंतजाम नहीं किया जा रहा।

Post a Comment

From around the web